सीएम हो तो धामी जैसा, ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के बाद भी नहीं लिया कोई ब्रेक

*सीएम हो तो ऐसा, ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के बाद भी नहीं लिया कोई ब्रेक, दिन-रात काम में व्यस्त हैं मुख्यमंत्री*

*-ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के समापन के बाद से नियमित रूप से सक्रिय हैं युवा मुख्यमंत्री धामी*

देहरादूनः 8-9 दिसंबर को देहरादून में ऐतिहासिक ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के सफल आयोजन के बाद भी मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने किसी तरह का कोई ब्रेक नहीं लिया है। यह दर्शाता है कि मुख्यमंत्री राज्य के विकास के प्रति कितनी संवेदनशीलता और दृढ़ता के साथ आगे बढ़ रहे हैं। वे विभिन्न संगठनों की ओर से होने वाले कार्यक्रमों में बगैर रुके भाग ले रहे हैं तो समिट में हुए तमाम करार की भी वे समीक्षा कर रहे हैं।
पिछले छह माह से राज्य सरकार ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियों में जुटी थी। करीब तीन माह पूर्व इस हेतु राज्य के मुख्यमंत्री के नेतृत्व में टीम ने देश-विदेश में भी कई शहरों के दौरे किये और इस दौरान भारी-भरकम निवेश करार भी किये गए। इन्वेस्टर्स समिट के लिए राज्य के मुख्यमंत्री ने ढाई लाख करोड़ के निवेश का लक्ष्य रखा था जिसे 8-9 दिसंबर से पहले ही यानी इन्वेस्टर्स समिट से पहले ही प्राप्त कर लिया। हालांकि, मुख्यमंत्री फिर भी रुके नहीं। अब चूंकि राज्य की राजधानी में अंतरराष्ट्रीय स्तर का आयोजन होना था तो समिट से तीन चार दिन पहले से ही सीएम धामी खुद एफआरआई में मौजूद रहकर तैयारियों का जायजा लेते रहे।
8-9 दिसंबर को प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने एक ऐतिहासिक समिट का शुभारंभ किया जिसमें 44 हजार करोड़ के निवेश की ग्राउंडिंग हुई। अगले दिन गृह मंत्री श्री अमित शाह की मौजूदगी में समिट का समापन हुआ।
इधर, समिट का भव्य समापन होने के बाद भी धामी रुके नहीं, बल्कि अगले ही दिन से वे फिर मोर्चे पर डट गए। रविवार को उन्होंने फिर एक बार एफआरआई परिसर में उत्तराखंड के सूचना एवं लोक सम्पर्क विभाग की विकास पुस्तिका का विमोचन किया। यहीं पर उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियों में जुटे श्रमवीरों से मुलाकात कर उनकी भी हौसलाअफजाई की। इसी दिन देर रात में जब उन्हें सूचना मिली कि भाजपा नेता चमन लाल वाल्मीकि जी की मृत्यु हो गयी है तो तत्काल शोक-संतप्त परिवार के बीच पहुँच उन्हें ढांढस बंधाया।
सोमवार को फिर बगैर कोई ब्रेक लिए मुख्यमंत्री पीआरडी के स्थापना दिवस समारोह में पहुँचे जहां उन्होंने कार्मिकों के हित में पांच बड़ी घोषणाएं भी की। इसके बाद देर शाम भाजपा अनूसूचित जाति जनप्रतिनिधि सम्मेलन में भी पूरे जोश के साथ प्रतिभाग किया। इसके बाद मुख्यमंत्री आवास में पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में भी प्रतिभाग किया।
आज भी मुख्यमंत्री का कार्यक्रम व्यस्तता भरा रहा। गांधी पार्क में नशा मुक्त उत्तराखंड कार्यक्रम में शामिल होने के बाद मुख्यमंत्री ने सचिवालय में अधिकारियों के साथ बैठक कर ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के अंतर्गत हुए करार आदि की समीक्षा की। सचिवालय में ही प्रख्यात अभिनेता अनुपम खेर ने भी सीएम से भेंट की और दोनों के बीच राज्य में फिल्म शूटिंग के क्षेत्र को लेकर विस्तृत चर्चा भी की। यही नहीं मुख्यमंत्री ने गढ़वाल केंद्रीय विवि एवं कुमाऊं विवि के तत्वावधान में होने वाली स्वर्णिम अमृत संदेश यात्रा का भी शुभारंभ किया।

सम्बंधित खबरें