देहरादून में एसएफए चैम्पियनशिप्स के चौथे दिन युवा एथलीट्स ने बॉक्सिंग, फेंसिंग, स्पीडकबिंग और टीकवोंडो में हिस्सा लिया

देहरादून में एसएफए चैम्पियनशिप्स के चौथे दिन युवा एथलीट्स ने बॉक्सिंग, फेंसिंग, स्पीडकबिंग और टीकवोंडो में हिस्सा लिया ।

महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज 176 पॉइन्ट्स के साथ सबसे आगे है
चौथे दिन श्री स्पोर्ट्स एकेडमी में स्विमिंग चैम्पियनशिप की शुरूआत हुई
स्पीडकबिंग की शुरूआत के साथ एसएफए चैम्पियनशिप्स में रोमांचक एडिशन शामिल हुआ
देहरादून, 13 अक्टूबर, 2023: देहरादून में चौथे दिन एसएफए चैम्पियनशिप्स 2023 जारी रही, परेड ग्राउण्ड में कई स्पोर्ट्स की शुरूआत हुई, वहीं श्री स्पोर्ट्स एकेडमी में स्विमिंग चैम्पियनशिप का आयोजन हुआ। देहरादून चैम्पियनशिप्स में आज सबसे पहले स्पीडकबिंग की शुरूआत हुई। परेड ग्राउण्ड के हॉल में हलचल नज़र आई, जहां एथलीट्स ने 5 खेलों- बॉक्सिंग, फेंसिंग, टीकवोंडो, वॉलीबॉल और स्पीडकबिंग में हिस्सा लिया।
एसएफए चैम्पियनशिप्स में आउटडोर स्पोर्ट्स के साथ-साथ इंडोर स्पोर्ट्स का आयोजन भी हो रहा है, देहरादून में एसएफए चैम्पियनशिप्स में स्पीडकबिंग प्रतियोगिता की शुरूआत हुई, जहां प्रतिभागियों ने अंडर-12 से लेकर अंडर-18 कैटेगरीज़ में हिस्सा लिया।
अंडर-12 से अंडर-17 (ब्वॉयज़ एण्ड गर्ल्स) के लिए फेंसिंग प्रतियोगिता के फाइनल परिणामों में लीडरबोर्ड पर कुछ रोमांचक पॉज़िशन्स दिखाई दिए। उदाहरण के लिए गर्ल्स (फॉयल के लिए) में अंडर-14 कैटेगरी में ग्रीनवुड हिल्स स्कुल मोथरोवाला ने सभी पोडियम पॉज़िशन हासिल कर लिए। वहीं ब्वॉयज़ (फॉयल के लिए) में अंडर-14 में गोल्ड और ब्रॉन्ज़ मैडल भी ग्रीनवुड हिल स्कूल, मोथरोवाला ने ही जीते, सोशल बलूनी पब्लिक स्कूल ने सिल्वर मैडल अपने नाम किया।
महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज 176 पॉइन्ट्स के साथ सबसे आगे बना हुआ है, जो अब तक 24 गोल्ड, 15 सिल्वर और 11 ब्रॉन्ज़ मैडल अपने नाम कर चुका है। वहीं सेंट जोसेफ एकेडमी 68 पॉइन्ट्स और सोशल बलूनी पब्लिक स्कूल 45 पॉइन्ट्स पर है। स्पोर्ट्स में नंबर वन स्कूल की पहचान की यह प्रतियोगिता ज़बरदस्त होती चली जा रही है, स्कूल विभिन्न खेलों में शानदार परफोर्मेन्स जारी रखे हुए हैं।
अंडर-11 बॉक्सिंग प्रतियोगिता के खिलाड़ी उदी भारद्वाज के पिता मोहित भारद्वाज ने कहा, ‘‘एसएफए चैम्पियप्स बच्चों के लिए बेहतरीन प्लेटफॉर्म है जो उन्हें प्रतिस्पर्धा का मौका देता है। मुझे लगता है कि एसएफए को इस तरह की चैम्पियनशिप्स का आयोजन जारी रखना चाहिए ताकि हमारे बच्चे खेलों के क्षेत्र में बेहतर परफोर्म कर सकें।’
एसएफए चैम्पियनशिप्स में पांचवां दिन ऐतिहासिक होने वाला है, जब तकरीबन 650 प्रतिभाशाली फीमेल एथलीट्स प्रतियोगिता में हिस्सा लेंगे। #शी इज़ गोल्ड एसएफए चैम्पियनशिप्स की विशेष पहल है, जो युवतियों को खेलों में अपनी क्षमता दर्शाने का मौका देती है। साथ ही उन्हें आने वाले कल के चैम्पियन के रूप में सशक्त बनाने की एसएफए की प्रतिबद्धता को दर्शाती है।

सम्बंधित खबरें